यादगिर. कांग्रेस प्रमुख मल्लिकार्जुन खरगे ने बुधवार को मतदाताओं से ”मोदी हटाओ, देश बचाओ” के नारे के साथ आगे बढ़ने का आह्वान किया और उनसे लोकसभा चुनाव में कांग्रेस उम्मीदवारों को चुनकर देश में संविधान और लोकतंत्र को बचाने के लिए एकजुट होने का आग्रह किया. खरगे यहां कर्नाटक में लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण के तहत सात मई को होने वाले मतदान के लिए कांग्रेस उम्मीदवार के समर्थन में एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे.

खरगे ने प्रधानमंत्री मोदी पर लोगों को भड़काने का आरोप लगाते हुए कहा कि मोदी ”हर बात पर हिंदू-मुसलमान करते रहते हैं, यह (यादगिर) निजाम (हैदराबाद) की रियासत का एक हिस्सा था. यहां हिंदू और मुस्लिम एक साथ रहे और एक-दूसरे के पर्वों को एक साथ मनाते रहे हैं. यहां कई हिंदुओं के नाम मुस्लिम नाम की तरह थे, उदाहरण के तौर पर नवाज रेड्डी.” उन्होंने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, ”यहां कभी भी (समुदायों के बीच) झगड़े नहीं हुए. मोदी दरार पैदा करने आए हैं. जो लोग एक-दूसरे पर भरोसा करके साथ रह रहे हैं, उनके बीच मोदी दरार पैदा कर रहे हैं.” खरगे ने कहा कांग्रेस देश में जातिगत जनगणना कराना चाहती है.

उन्होंने कहा, ”इसका मकसद यह जानना है कि एक परिवार में कितने स्नातक हैं, यह जानना है कि परिवार के पास जमीन है या नहीं? उनकी आय क्या है?- यह जानने के लिए हम जाति जनगणना करना चाहते हैं.” कांग्रेस नेता ने कहा, ”लेकिन, मोदी लोगों से कह रहे हैं कि कांग्रेस एक्स-रे कराना चाहती है. वह कह रहे हैं कि कांग्रेस यह जानना चाहती है कि प्रत्येक परिवार के पास कितना सोना और जमीन है. वह कह रहे हैं कि आपका ‘मंगलसूत्र’ भी छीन लिया जाएगा और मुसलमानों को दे दिया जाएगा.”

उन्होंने कहा, ”हमारे पास संविधान और हमें इसकी सुरक्षा प्रदान है. हम इसे (जाति जनगणना) करेंगे. ये लोकतंत्र है मोदी जी, तानाशाही या निरंकुशता नहीं. मुझे नहीं पता कि आप भ्रम में हैं या किसी और चीज में.” मुख्यमंत्री सिद्धरमैया, उपमुख्यमंत्री डी.के. शिवकुमार और पार्टी के अन्य नेता इस दौरान मौजूद रहे. खरगे ने कहा कि कर्नाटक में कांग्रेस सरकार द्वारा दी गई पांच ‘गारंटी’ महिलाओं, युवाओं और किसानों के लिए एक ”बड़ी सौगात” है और इसके लिए उन्होंने मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री और सरकार की सराहना की.

उन्होंने कहा, ”जहां भी कांग्रेस पार्टी की सरकार है, वहां अपने वादों को पूरा किया है, लेकिन जहां भी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार है, वहां प्रधानमंत्री मोदी ने सिर्फ बोलने के अलावा किसी को कुछ नहीं दिया.” कांग्रेस प्रमुख ने कहा, ”मोदी का काम कांग्रेस, गांधी परिवार और मुझे निशाना बनाना है.” खरगे ने कहा, ”हम मोदी को निशाना नहीं बनाना चाहते, लेकिन हम उनका नाम लेने के लिए मजबूर हैं, क्योंकि वह खुद भी और भाजपा, दोनों ही हर चीज का श्रेय मोदी को देते हैं.”

उन्होंने कहा, ”वे (भाजपा) कहते हैं ‘मोदी की गारंटी’. कहां है ‘मोदी की गारंटी’? हमारी गारंटी लोगों तक पहुंची है और आप लोग इसके साक्ष्य हैं, लेकिन मोदी की गारंटी कहां है? उन्होंने हर साल दो करोड़ नौकरियां, हर बैंक खाते में 15 लाख रुपये देने का वादा किया था- क्या ऐसा हुआ? वह (मोदी) कभी भी अपने वादे पूरे नहीं करते, केवल झूठ बोलते हैं, इसलिए मैंने उनका नाम ‘सुलिना सरदार’ (झूठ का भगवान) रख दिया है.”