कोच्चि. केरल के कोच्चि में शुक्रवार को एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया जहां 23 वर्षीय एक युवती ने न केवल अपने गर्भवती होने की बात छुपाई बल्कि स्नानघर में बच्चे को जन्म देने के बाद कथित रूप से नवजात शिशु को लिफाफे में डाल कर अपने घर के बाहर ही सड़क पर फेंक दिया. घटना बंदरगाह शहर के पॉश इलाके पनमपिल्ली नगर की है. पुलिस का कहना है कि युवती को हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया जाएगा. पुलिस को युवती का यौन उत्पीड़न होने की आशंका है.

पुलिस ने कहा कि ‘अमेजन’ के ‘डिलीवरी पैकेट’ पर लिखे पते का उपयोग करके युवती का पता लगाया गया और उसे हिरासत में ले लिया गया है. युवती ने नवजात को अमेजन के डिलीवरी पैकेट में डालकर फेंका था. कोच्चि निगम के सफाई कर्मचारियों ने सुबह करीब आठ बजे पनमपिल्ली नगर में सड़क के किनारे एक नवजात का शव पड़ा देखा था और पुलिस को इसकी सूचना दी थी.

शहर के पुलिस आयुक्त एस श्यामसुंदर के अनुसार युवती ने स्वीकार किया है कि उसने आज सुबह करीब साढ.े पांच बजे अपने स्नानघर में बच्चे को जन्म दिया और बाद में घबराकर उसने नवजात को फेंक दिया. बताया जाता है कि युवती के माता-पिता उसके गर्भवती होने के बारे में कथित तौर पर अनभिज्ञ थे. वह अपने माता पिता के साथ ही रहती है. पुलिस ने बताया कि उसके माता पिता को भी ये जानकारी नहीं थी कि युवती ने एक बच्चे को जन्म दिया है, क्योंकि बच्चे का जन्म स्नानघर के अंदर हुआ, जिसे युवती ने बंद कर दिया था.

पुलिस द्वारा घटना के संबंध में माता-पिता और युवती से पूछताछ करने के बाद आयुक्त ने कहा, “माता-पिता को गर्भावस्था के बारे में तब तक पता नहीं था जब तक पुलिस फ्लैट पर नहीं आई और उनसे पूछताछ नहीं की.” श्यामसुंदर ने कहा, “आशंका है कि लड़की के साथ दुष्कर्म किया गया है. इस संबंध में जांच की जाएगी.” पुलिस अधिकारी ने कहा, “हमने पीड़िता को उचित चिकित्सा देखभाल के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है… युवती को हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया जाएगा.” पुलिस आयुक्त ने कहा कि बच्चा मृत पैदा हुआ था या जीवित था, इसका पता पोस्टमार्टम के बाद ही चल सकेगा. उन्होंने बताया कि कथित तौर पर उसने प्रसव के तीन घंटे बाद नवजात शिशु को सड़क पर फेंका था. शहर के पुलिस प्रमुख ने यह भी बताया कि युवती अविवाहित है और वह सदमे में है. अधिकारी ने बताया कि विस्तृत पूछताछ के बाद ही पूरा मामला स्पष्ट हो सकेगा.