अलीराजपुर/खरगोन. कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सोमवार को दावा किया कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) देश का संविधान बदलना चाहते हैं इसलिए मौजूदा लोकसभा चुनाव का उद्देश्य देश के संविधान को बचाना है. मध्य प्रदेश में रतलाम-झाबुआ लोकसभा सीट के अंतर्गत अलीराजपुर जिले के जोबट कस्बे में एक जनसभा को संबोधित करते हुए, गांधी ने यह भी कहा कि कांग्रेस सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि लोगों के हित में आरक्षण पर 50 प्रतिशत की सीमा हटा दी जाए.

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष ने फिर से जाति जनगणना की वकालत की और दावा किया कि इससे लोगों की स्थिति के बारे में सब कुछ पता चल जाएगा और देश में राजनीति की दिशा बदल जाएगी. गांधी ने कहा, “यह चुनाव देश के संविधान को बचाने के लिए हो रहा है. भाजपा, आरएसएस इसे बदलना चाहते हैं, लेकिन कांग्रेस और विपक्षी गठबंधन ‘इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इन्क्लूसिव अलायंस’ (‘इंडिया’) इसे बचाने की कोशिश कर रहे हैं.” उन्होंने कहा कि भाजपा ने संविधान को बदलने के इरादे से “400 पार” (400 से अधिक लोकसभा सीटें जीतने का लक्ष्य) का नारा दिया है.

वायनाड से सांसद गांधी ने दावा किया, ”लेकिन, 400 सीटें तो छोड़िए, भाजपा को इस बार 150 से ज्यादा सीटें भी नहीं मिलेंगी.” गांधी ने यह भी कहा कि कांग्रेस सरकार युवाओं को कंपनियों में एक साल की प्रशिक्षुता और उसके बाद नौकरी सुनिश्चित करने के लिए ‘पहली नौकरी पक्की’ योजना शुरू करेगी.

उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण अवधि के दौरान युवाओं को प्रति माह 8,500 रुपये का भत्ता मिलेगा, जो एक वर्ष में एक लाख रुपये होगा.
गांधी ने यह भी कहा कि उनकी पार्टी सत्ता में आने पर महिलाओं को “लखपति” बनाने के लिए उनके खातों में 8,500 रुपये प्रति माह देना शुरू कर देगी. कांग्रेस ने आदिवासी बहुल रतलाम-झाबुआ सीट से भाजपा की अनीता नागर चौहान के खिलाफ पूर्व केंद्रीय मंत्री कांतिलाल भूरिया को मैदान में उतारा है. यहां 13 मई को मतदान होगा.

अगर सत्ता में आए तो कृषि ऋण माफ करेंगे, दैनिक मनरेगा भत्ता भी बढाएंगे: राहुल गांधी

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सोमवार को कहा कि चुनाव के बाद अगर केंद्र में उनकी पार्टी की सरकार बनती है तो किसानों का कर्ज माफ किया जाएगा और मनरेगा योजना के तहत दैनिक भत्ता 250 रुपये से बढ़ाकर 400 रुपये कर दिया जाएगा. मध्य प्रदेश के खरगोन लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत सेगांव में एक जनसभा को संबोधित करते हुए गांधी ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने संविधान में बदलाव करने और अंतत? इसे खत्म करने का मन बना लिया है.

उन्होंने कहा, ”अगर कांग्रेस केंद्र में सत्ता में आती है तो किसानों का कर्ज माफ करेगी और मनरेगा भत्ता 250 रुपये से बढ़ाकर 400 रुपये प्रतिदिन करेगी.” कांग्रेस ने खरगोन (एसटी) और खंडवा लोकसभा क्षेत्रों से क्रमश? पोरलाल खरते और नरेंद्र पटेल को मैदान में उतारा है.

गांधी ने कहा, ”यह चुनाव संविधान, आरक्षण और जनजातीय लोगों के जल, जंगल, जमीन और सार्वजनिक क्षेत्र (पीएसयू) को बचाने के लिए लड़ा जा रहा है.” उन्होंने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री मोदी ये सारी चीजें अडाणी समेत 22-25 अरबपतियों को देना चाहते हैं.
उन्होंने कहा कि ‘इंडिया’ सरकार गरीब महिलाओं को लखपति बनाने के लिए उनके खाते में हर साल एक लाख रुपये जमा करेगी.