कोलकाता. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने बुधवार को आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) लोगों को पैसे देकर उनके वोट खरीद रही है. तृणमूल कांग्रेस उम्मीदवार मिताली बाग के समर्थन में आरामबाग में रैली को संबोधित करते हुए बनर्जी ने आरोप लगाया कि भाजपा वोट खरीदने के लिए लोगों को 5,000 रुपये, 10,000 रुपये और 15,000 रुपये तक दे रही है.

उन्होंने कहा, ”इस समय के भाजपा नेता पुराने समय के माकपा वाले असामाजिक लोग जैसे ही हैं. यदि आप नहीं चाहते कि आतंक का राज कायम हो, तो भाजपा को वोट देने से बचें.” बनर्जी ने कहा कि यह चुनाव दिल्ली में सत्ता समीकरण बदलने के लिए है. उन्होंने कहा, ”दिल्ली में इस सत्ता समीकरण को बदलना होगा और बदलाव लाना होगा.” तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा की पश्चिम बंगाल के लोगों को बदनाम करने की आदत है.

उन्होंने कहा, ”देखिए, उन्होंने किस तरह संदेशखालि की महिलाओं को दुष्कर्म के झूठे आरोप लगाने के लिए पैसे देकर उनका अपमान किया है.” ममता ने यह आरोप भी लगाया कि भाजपा ने पश्चिम बंगाल में 26,000 शिक्षकों की नौकरी छीन ली. उन्होंने कहा, ”लेकिन सच सामने आ गया है. उच्चतम न्यायालय के कल के फैसले के बाद मैं वास्तव में संतुष्ट महसूस कर रही हूं कि कुछ समय के लिए नौकरियां बच गईं.” बनर्जी ने भाजपा पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सुबह से शाम तक झूठ बोलते रहते हैं.

उन्होंने कहा, ”भाजपा सीएए और एनआरसी का इस्तेमाल करके लोगों को बाहर निकाल देगी. अगर मोदी फिर से सत्ता में आते हैं तो अल्पसंख्यकों, आदिवासियों और अन्य पिछड़े वर्गों के सामने अस्तित्व का संकट खड़ा हो जाएगा.” तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ने कहा, ”मोदी कहते हैं कि हमारी पार्टी ने 100 दिन के काम का पैसा हड़प लिया. जबकि 100 दिन के काम के तहत राज्य सरकार ने 24 करोड़ रुपये बचाए.” उन्होंने कहा, ”अगर इस बार मोदी जीत जाते हैं तो सबकुछ खत्म हो जाएगा. और भविष्य में कोई चुनाव भी नहीं होगा.”