मुंबई. मलयालम फिल्म ‘योद्धा’ और ‘क्या कूल हैं हम’ व ‘अपना सपना मनी मनी’ जैसी हिंदी फिल्मों के लिए मशहूर निर्देशक संगीत सिवन का यहां 65 वर्ष की उम्र में दिल का दौरा पड़ने के बाद एक अस्पताल में निधन हो गया. संगीत के भाई संतोष सिवन ने ‘पीटीआई-भाषा’ से एक व्हाट्स ऐप संदेश के जरिये उनके निधन की पुष्टि की. संतोष के मुताबिक, संगीत को दिल का दौरा पड़ने के बाद कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उन्होंने अंतिम सांस ली.

उन्होंने बताया कि बृहस्पतिवार शाम चार बजे ओशीवारा श्मशान में संगीत का अंतिम संस्कार किया जाएगा. संगीत, फिल्म निर्माता सिवन के तीन बेटों में सबसे बड़े बेटे थे, जिन्होंने 1990 में रघुवरन और उर्वशी अभिनीत मलयालम फिल्म ‘व्यूहम’ से निर्देशन के अपने सफर की शुरुआत की थी. संगीत ने वर्ष 1992 की लोकप्रिय फिल्म ‘योद्धा’ का निर्देशन किया था, जिसमें मलयालम अभिनेता मोहनलाल ने अभिनय किया था. मोहनलाल ने संगीत की फिल्मों ‘गंधर्वम’ (1993) और ‘निर्णयम’ (1995) में भी मुख्य भूमिका निभाई थी.

संगीत ने 1998 में सनी देओल और सुष्मिता सेन अभिनीत फिल्म ‘जोर’ से हिंदी फिल्म जगत में अपने सफर की शुरुआत की थी. संगीत ने ‘चुरा लिया है तुमने’, ‘एक- द पावर ऑफ वन’, ‘क्लिक’ और ‘यमला पगला दीवाना-2’ जैसी कुछ हिंदी फिल्मों का भी निर्देशन किया था. केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने फिल्म निर्देशक के निधन पर शोक प्रकट किया. अभिनेता सनी देओल ने कहा कि वह अपने दोस्त (संगीत) के निधन की खबर सुनकर सदमे में हैं. सनी देओल ने संगीत के निर्देशन में बनी फिल्म ‘जोर’ और ‘यमला पगला दीवाना 2’ में काम किया था.

सनी ने संगीत के साथ की कुछ तस्वीरों को साझा करते हुए कहा, ”अपने प्रिय मित्र संगीत सिवन के निधन की खबर सुनकर स्तब्ध हूं. विश्वास नहीं हो रहा है कि आप अब हमारे बीच नहीं हैं लेकिन आप हमेशा हमारे दिलों और यादों में हमारे साथ रहेंगे. ओम शांति मेरे दोस्त. आपके परिवार को इस नुकसान से उबरने की ताकत मिले.” अभिनेता रितेश देशमुख ने कहा कि वह संगीत के निधन से दुखी हैं. उन्होंने ‘क्या कूल हैं हम’ और ‘अपना सपना मनी मनी’ जैसी हास्य फिल्मों में साथ काम किया. रितेश ने कहा, ”संगीत सिवन सर अब नहीं रहे यह जानकर बहुत दुख हुआ और स्तब्ध हूं. फिल्म जगत में नये होने के नाते आप बस यही चाहते हैं कि कोई आप पर विश्वास करे और मौका दे. ‘क्या कूल हैं हम’ और ‘अपना सपना मनी मनी’ के लिए उनका जितना धन्यवाद करूं कम है.”