रांची/गढ़वा. राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता तेजस्वी यादव ने केंद्र में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की अगुवाई वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सरकार पर संविधान बदलने और एससी, एसटी तथा ओबीसी श्रेणियों का ”आरक्षण छीनने” की कोशिश करने का आरोप लगाते हुए बुधवार को कहा कि उनकी पार्टी ऐसे किसी भी प्रयास को नाकाम कर देगी. यादव ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर झारखंड के साथ सौतेला व्यवहार करने का भी आरोप लगाया.

बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री ने विपक्षी दलों के गठबंधन ‘इंडिया’ की प्रत्याशी ममता भुइयां के पक्ष में पलामू के छतरपुर में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा, ” प्रधानमंत्री मोदी और भाजपा के नेतृत्व वाला राजग भारत के संविधान को बदलना चाहता है लेकिन मैं वादा करता हूं कि कोई भी हमारे संविधान को नहीं बदल सकता और आपका आरक्षण नहीं छीन सकता. हम ऐसी किसी भी कोशिश को नाकाम कर देंगे.”

उन्होंने आरोप लगाया, ”मोदी पिछले 10 सालों में झूठ फैलाते रहे और उन्होंने महंगाई रोकने, नौकरियां मुहैया कराने और काले धन को खत्म करने जैसे अपने किसी भी वादे को पूरा नहीं किया.” राजद नेता ने आरोप लगाया, ”प्रधानमंत्री मोदी झूठ के निर्माता, वितरक और थोक व्यापारी हैं. उन्होंने एलआईसी, बंदरगाह, हवाई अड्डे और देश की संपत्ति बेच दी.”

यादव ने दावा किया, ”प्रधानमंत्री मोदी ने कोई भी वादा पूरा नहीं किया. उल्टे भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार ने विपक्षी दलों के ऐसे नेताओं के पीछे ईडी और सीबीआई जैसी एजेंसियों को लगा दिया, जो लोगों की आवाज उठा रहे हैं और उनके अधिकारों के लिए लड़ रहे हैं.” राजद नेता ने आरोप लगाया, ”प्रधानमंत्री मोदी झारखंड के साथ सौतेला व्यवहार कर रहे हैं. उन्होंने झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को जेल भेज दिया. उन्होंने मेरे पीछे सीबीआई को लगा दिया है.”