छत्रपति संभाजीनगर. केंद्रीय मंत्री और भाजपा के पूर्व अध्यक्ष नितिन गडकरी ने शुक्रवार को कहा कि विपक्षी दल यह दावा कर लोगों को भ्रमित कर रहा है कि यदि भाजपा सत्ता में बनी रहती है तो वह संविधान बदल देगी. गडकरी कहा कि दरअसल यह कांग्रेस ही है जिसने अपने शासनकाल में 80 बार संविधान संशोधन किया. उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि कांग्रेस की गलत आर्थिक नीतियों के कारण ही देश के लोग गरीब बने रहे. सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री गडकरी महाराष्ट्र में बीड लोकसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी पंकजा मुंडे के समर्थन में मजलगांव में एक चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे.

उन्होंने कहा, ” हमारा विपक्ष लोगों को तसल्ली नहीं दे पाया या आश्वस्त नहीं कर पाया. इसलिए वह उन्हें भ्रमित कर रहा है. वे (विपक्ष के नेता) कहते हैं कि हम (भाजपा) संविधान बदल देंगे. लेकिन उच्चतम न्यायालय का एक निर्णय है जो कहता है कि संविधान नहीं बदला जा सकता है, केवल संशोधन किया जा सकता है. अबतक कांग्रेस 80 बार संविधान में संशोधन कर चुकी है.” गडकरी ने कहा, ”जबतक पंक्ति के आखिर में खड़ा निर्धन व्यक्ति लाभान्वित न हो जाता, तबतक हम नहीं रूकेंगे, अपना काम करते रहेंगे. देश में लोग कांग्रेस की गलत आर्थिक नीतियों की वजह से गरीब बने रहे. हमने 10 साल काम किया लेकिन 60 सालों तक सत्ता में रहने के बावजूद कांग्रेस ने कुछ नहीं किया. इसलिए, अब जब वह अपना काम को दिखाकर चुनाव नहीं लड़ सकती है तो वह लोगों को भ्रमित करने की कोशिश कर रही है.”

पूर्व भाजपा अध्यक्ष ने मतदाताओं से इस चुनाव में जाति या धर्म के आधार पर वोट नहीं डालने की अपील की. उन्होंने कहा, ”जब हम हृदय की सर्जरी के लिए जाते हैं क्या हम डॉक्टर की जाति के बारे में सोचते हैं. यदि आप पंकजा को वोट देते हैं तो ही आप यहां रिंगरोड, फ्लाईओवर और र्सिवस रोड के मुद्दों के समाधान के लिए मेरे पास आ सकते हैं.” वाहनों का जिक्र करते हुए गडकरी ने कहा कि सीएनजी पर चल रहे दो पहिया वाहन पहले से ही कई कंपनियों द्वारा बनाये गये हैं.

उन्होंने कहा, ”चीनी कारखानों को इन वाहनों के वास्ते ईंधन बेचने के लिए इथेनॉल पंप लगाने का लाइसेंस दिया जाएगा. अब किसान केवल ऊर्जा उत्पादक ही नहीं होंगे बल्कि वे कृषि अपशिष्टों से विमान ईंधन एवं बायो-बिटूमेन का भी उत्पादन करेंगे.” मराठवाड़ा क्षेत्र की बीड लोकसभा सीट पर 13 मई को मतदान होगा. मुख्य मुकाबला मुंडे और राकांपा (एसपी) बजरंग सोनवाने के बीच है.