पटना: नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने एक बार फिर से पीएम नरेंद्र मोदी पर हमला बोला है। चिराग पासवान द्वारा आरक्षण पर दिए गए बयान के सवाल पर तेजस्वी यादव ने कहा कि इस पर ज्यादा टीका-टिप्पणी करने की जरूरत नहीं है। चिराग पासवान खुद ही कहते थे कि वह संपन्न दलित हैं। उनको आरक्षण वापस लौटा देना चाहिए। पीएम मोदी ने तो चिराग पासवान के साथ अन्याय किया है। उनके पिताजी की मूर्ति को फेंकवाया। उनके घर को खाली करवाया। उनके पार्टी को तुड़वाया। उनकी पार्टी सिंबल जो बांग्ला था, उसको छीनने का काम किया। घर में चाचा भतीजे में लड़ाई लगवाए फिर भी चिराग पासवान मोदी जी के हनुमान बने हुए हैं। कोई भी खुदगर्ज आदमी होता मोदी जी के साथ नहीं रहता। लेकिन, पता नहीं चिराग पासवान की अपनी सोच है। वह स्वतंत्र हैं किसी के साथ भी रहने के लिए।

चिराग को थोड़ी सी भी जानकारी नहीं
तेजस्वी यादव ने तंज कसते हुए कहा कि आरक्षण के बारे में चिराग पासवान को थोड़ी भी जानकारी नहीं है। ना ही आरएसएस के इतिहास की उनको जानकारी है। थोड़ा आरक्षण के बारे में जानकारी प्राप्त करें और जानकारी तभी उनको प्राप्ति हो सकती है जब अपने पिताजी रामविलास पासवान के भाषणों को वह सुनेंगे। रामविलास जी कई बार कह चुके थे कि भाजपा दंगाई पार्टी है। आरक्षण विरोधी है। आरक्षण समाप्त करना चाहती है। इस कारण उन्होंने मंत्रीमंडल से इस्तीफा भी दिया था।

तेजस्वी बोले- नादान हैं चिराग पासवान
तेजस्वी यादव ने कहा कि चिराग पासवान नादान हैं। इधर-उधर कोई भटका देता है तो भटक जाते हैं। मोदी जी हैं तो आरक्षण पर खतरा है। मोदी जी हैं तो लोकतंत्र और संविधान पर खतरा है। आंख बंद करके नहीं रहना चाहिए आंख खोल कर रहना चाहिए। भाजपा के नेता और सांसद बार-बार इस बात को कह रहे हैं 400 पार लाओ और हम संविधान को खत्म करेंगे।