चेन्नई: तमिलनाडु की नागपट्टिनम लोकसभा सीट से सांसद और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) के अनुभवी नेता एम. सेल्वराज का सोमवार को यहां उम्र संबंधी समस्याओं के कारण निधन हो गया। अस्पताल के सूत्रों ने यह जानकारी दी।

एम. सेल्वराज ने यहां के डेल्टा किसानों के समर्थन में कई विरोध प्रदर्शनों का नेतृत्व किया था। वह 67 वर्ष के थे और उनके परिवार में पत्नी कमलावथनम और दो बेटियां हैं। सेल्वारासु के नाम से लोकप्रिय भाकपा नेता का जन्म 1957 में तिरुवरुर जिले में हुआ था।

सूत्रों ने बताया कि कुछ महीनों से उनकी तबीयत ठीक नहीं थी और आज तड़के उन्होंने अंतिम श्वांस ली।
चार बार के सांसद सेल्वाराज ने 1989 के लोकसभा चुनावों में नागपट्टिनम लोकसभा सीट से जीत हासिल की और अपना संसदीय सफर शुरू किया था। वह 1996, 1998 और 2019 लोकसभा चुनावों में भी विजयी हुए थे।

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम. के. स्टालिन ने उनके निधन पर दुख जताते हुए कहा कि सेल्वराज का निधन भाकपा और डेल्टा जिलों के लोगों के लिए एक अपूरणीय क्षति है। भाकपा के राज्य सचिव आर. मुथरासन ने भी सेल्वराज के निधन पर दुख जताया।