बीजापुर. छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर जिले में मंगलवार को छह महिला नक्सलियों समेत 30 नक्सलियों ने सुरक्षाबलों के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया. पुलिस अधिकारियों ने यह जानकारी दी. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि इनमें से नौ नक्सलियों के सिर पर कुल 39 लाख रुपये का नकद इनाम है. उन्होंने बताया कि नक्सलियों ने पुलिस और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के वरिष्ठ अधिकारियों के सामने आत्मसमर्पण किया है.

नक्सलियों ने कहा है कि वह माओवादियों की ‘खोखली’ विचारधारा से निराश होने के साथ पुलिस की पुनर्वास नीति से प्रभावित हैं.
अधिकारियों ने बताया कि आत्मसमर्पण करने वाले 30 नक्सलियों में मिटकी ककेम उर्फ सरिता (35), मुरी मुहंदा उर्फ सुखमती (32) भी शामिल हैं. इन दोनों के सिर पर आठ-आठ लाख रुपये का इनाम है. उन्होंने बताया कि अन्य नक्सली रजिता वेट्टी (24), कोवासी (24) और आयता सोढ़ी (22) तथा सीनू पदम (27) के सिर पर पांच-पांच लाख रुपये का इनाम है. अधिकारियों ने बताया कि आत्मसमर्पण करने वाले अन्य नक्सलियों में शामिल मुन्ना हेमला (35), आयतु मिडियम (38) और आयतु कारम (50) के सिर पर एक-एक लाख रुपये का इनाम है.

उन्होंने बताया कि आत्मसमर्पण करने वाले नक्सली पूर्व में सुरक्षाबलों पर हमल करने सहित कई हिंसक घटनाओं में शामिल थे.
अधिकारियों ने बताया कि आत्मसमर्पण करने वाले सभी नक्सलियों को 25-25 हजार रुपये नकद प्रदान किये गये हैं. उन्हें सरकार की पुनर्वास नीति के तहत सहायता दी जाएगी. उन्होंने बताया कि इस आत्मसमर्पण के साथ इस वर्ष अब तक सुरक्षाबलों के सामने आत्मसमर्पण करने वाले माओवादियों की संख्या बढ़कर 76 हो गई है.