बारासात. पश्चिम बंगाल में उत्तर 24 परगना की भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) कार्यकर्ता पियाली दास ने अपने खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज होने के बाद मंगलवार को स्थानीय अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया जिसके बाद उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया. दास पर आरोप है कि उन्होंने संदेशाखाली की एक महिला से कोरे कागज पर हस्ताक्षर लिए और बाद में तृणमूल कांग्रेस नेताओं पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए उसी पन्ने पर शिकायती पत्र लिखा.

बशीरहाट उप-अनुमंडलीय अदालत के अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने दास की जमानत याचिका खारिज कर दी और उन्हें आठ दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया. एक महिला ने संदेशखाली पुलिस थाना में दास के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है. उसने दावा किया है कि दास ने उससे एक कोरे कागज पर हस्ताक्षर करवाए थे और उसके बाद उस पर यौन अत्याचार के आरोप लिखे थे.