मुंबई. केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने बुधवार को कहा कि अंतरिम जमानत पर बाहर आने के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का चुनाव अभियान लोगों को शराब घोटाले और उनके अधूरे वादों के बारे में बार-बार याद दिलाएगा जिससे भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के ही वोट बढ़ेंगे.

मुंबई में रोड शो के दौरान ‘पीटीआई-भाषा’ के साथ साक्षात्कार में गोयल ने कहा कि उच्चतम न्यायालय ने स्पष्ट किया है कि आम आदमी पार्टी (आप) के प्रमुख को शराब घोटाला मामले में गुण और दोष पर न जाते हुए, सिर्फ अंतरिम जमानत दी गई है. ‘आप’ के नेताओं की संलिप्तता वाले कथित शराब नीति घोटाले से जुड़े धन शोधन मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने इस साल 21 मार्च को अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार किया था. पिछले शुक्रवार को उच्चतम न्यायालय ने उन्हें अंतरिम जमानत दे दी ताकि वह लोकसभा चुनाव के लिए प्रचार-अभियान में शामिल हो सकें.

केंद्रीय वाणिज्य मंत्री गोयल से जब पूछा गया कि क्या केजरीवाल के प्रचार अभियान से लोकसभा चुनाव के नतीजों पर असर पड़ेगा, उन्होंने कहा, ”उन्हें (केजरीवाल को) केवल बाहर आकर प्रचार करने की अनुमति दी गई है जो हमारे लिए अच्छा है. वास्तव में इससे भाजपा के खाते में और वोट जुड़ेंगे क्योंकि लोगों को शराब घोटाला और भ्रष्टाचार तथा केजरीवाल के अधूरे वादे बार-बार याद आते रहेंगे.” गोयल मुंबई उत्तर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं और उनका मुकाबला कांग्रेस उम्मीदवार भूषण पाटिल से है. भाजपा के वरिष्ठ नेता ने कहा, ”लोगों को शीश महल, दिल्ली में भ्रष्टाचार और शराब घोटाला याद आएगा. यह (हमारे लिए) अच्छा है.” उन्होंने कहा कि केजरीवाल को उनके खिलाफ मामले के गुण और दोष के आधार पर जमानत नहीं मिलती.