नासिक. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (शरदचंद्र पवार) ने बृहस्पतिवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि वह (मोदी) अपना विश्वास खो चुके हैं क्योंकि जनता इस बार राजनीतिक बदलाव चाहती है. पवार ने प्रधानमंत्री मोदी को ‘जिरेटोप’ पहनाने के लिए अजित पवार नीत राकांपा के नेता प्रफुल्ल पटेल की भी आलोचना की और कहा कि यह पूर्व केंद्रीय मंत्री की ‘लाचारी’ को दिखाता है.

छत्रपति शिवाजी महाराज अक्सर ‘जिरेटोप’ पहना करते थे. पवार ने यहां संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा, ”लोकसभा चुनावों के दौरान मैं कई जगह प्रचार करने गया. लोगों की मानसिकता (राजनीतिक) अब बदल चुकी है और इस वजह से मोदी अपना विश्वास खो चुके हैं. राज्य में महाविकास अघाडी के समर्थन में हवा है.” पवार ने मुंबई के घाटकोपर इलाके में बुधवार को रोडशो करने के लिए प्रधानमंत्री मोदी की आलोचना की.

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा, ”मोदी ने गुजराती प्रभुत्व वाले एक इलाके में रोड शो किया. जब आप एक देश की अगुवाई कर रहे हैं तब जाति और धर्म के बारे में सोचना सही नहीं है. मुंबई जैसे शहर में रोडशो करना सही चीज नहीं है. लोगों को घंटों इंतजार करना पड़ा. उन्हें इसकी वजह से परेशानी हुई…इस तरह की शिकायतें प्राप्त हुईं.” रोडशो से पहले जागृति नगर और घाटकोपर स्टेशन के बीच मुंबई मेट्रो रेल सेवा सुरक्षा कारणों से निलंबित कर दी गयी थी. पुलिस ने रोडशो की वजह से आस-पास की कुछ सड़कों को बंद किया और कुछ पर मार्ग परिर्वितत कर दिये.

पवार ने जिरेटोप विवाद पर कहा, ”जिरेटोप और महाराष्ट्र का इतिहास है. लाचारी की भी सीमा होती है. लेकिन अच्छा है कि उन्होंने कहा कि वह भविष्य में इसका ध्यान रखेंगे.” वाराणसी में नामांकन दाखिल करने से पहले पटेल ने प्रधानमंत्री मोदी के सिर पर ‘जिरेटोप’ पहनाया, जिसे लेकर विवाद छिड़ गया. विपक्षी दलों ने इसकी काफी आलोचना की.