कीव. रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने शुक्रवार को कहा कि यूक्रेन के खारकीव क्षेत्र में उसके हमले का उद्देश्य एक ‘बफर जोन’ बनाना है लेकिन शहर पर कब्जा करने की उसकी कोई योजना नहीं है. चीन के हार्बिन के दौरे पर शुक्रवार को पत्रकारों से बात करते हुए पुतिन ने कहा कि रूस के बेलगोरोद क्षेत्र में यूक्रेन की गोलाबारी के जवाब में रूस ने खारकीव क्षेत्र में हमले किए. यह 10 मई को शुरू हुए हमले के बाद उनकी पहली टिप्पणी है. इस हमले ने युद्ध में एक नया मोर्चा खोल दिया और कुछ ही दिनों में यूक्रेन के हजारों लोगों को विस्थापित होना पड़ा.

यह शुक्रवार तड़के क्रीमिया प्रायद्वीप पर बड़े पैमाने पर यूक्रेन के ड्रोन हमले के कुछ घंटों बाद हुआ, जिससे सेवस्तोपोल शहर में बिजली गुल हो गई, जबकि एक एयरबेस पर विमान और ईंधन भंडारण को नुकसान पहुंचा. रूसी अधिकारियों ने कहा कि हमले के बाद एक रिफाइनरी में आग लग गयी .

पुतिन ने संवाददाताओं से कहा कि रूस के बेलगोरोद क्षेत्र में यूक्रेनी गोलाबारी के जवाब में खारकीव क्षेत्र में हमले शुरू किए गये.
उन्होंने कहा, ह्लमैंने सार्वजनिक रूप से कहा है कि अगर यह जारी रहा तो हम एक सुरक्षा क्षेत्र, एक जोखिम मुक्त क्षेत्र बनाने के लिए मजबूर होंगे.ह्व पुतिन ने कहा कि रूसी सैनिक ह्लयोजना के अनुसार प्रतिदिन आगे बढ. रहे हैंह्व. उन्होंने कहा कि रूस की फिलहाल खारकीव पर कब्जा करने की कोई योजना नहीं है.

यूक्रेनी सैनिक शुक्रवार को खारकीव क्षेत्र में बढ. रहे रूसी सैनिकों को रोकने के लिए लड़ रहे हैं. यूक्रेन के आगामी शांति सम्मेलनों पर सख्त प्रतिक्रिया देते हुये पुतिन ने कहा कि यह रूस पर शांतिपूर्ण समाधान की शर्तों को थोपने का एक व्यर्थ प्रयास है. उन्होंने कहा कि रूस बातचीत के लिए तैयार है, लेकिन उन्होंने यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की के शांति फॉर्मूले को इच्छित सोच बताकर खारिज कर दिया. उन्होंने कहा कि संभावित शांति वार्ता एक मसौदा समझौते पर आधारित हो सकती है जिस पर रूस और यूक्रेन ने 2022 में इस्तांबुल वार्ता के दौरान बातचीत की थी.