ईटानगर: वन विभाग के र्किमयों ने अरुणाचल प्रदेश के पक्के केसांग जिले में पक्के बाघ अभयारण्य के मुख्य क्षेत्रों और सीमांत क्षेत्रों में रात्रि गश्त बढ़ा दी है। एक अधिकारी ने शनिवार को यह जानकरी दी। रिलोह रेंज वन अधिकारी तालो डिबो ने बताया कि चार अज्ञात व्यक्तियों को 15 मई को रेंज कार्यालय से लगभग 20 किलोमीटर दूर ताकोसिनयी तालाब क्षेत्र से मेंढक इकट्ठा करते पकड़ा गया था जिसके बाद से गश्त तेज कर दी गई है।

गश्ती दल का नेतृत्व करने वाले डिबो ने कहा कि रिलोह वन्यजीव रेंज मुख्यालय में अवैध रूप से मछली पकड़ने और जंगली पक्षियों एवं जानवरों के शिकार को रोकने तथा आम जनता के बीच जागरूकता पैदा करने के लिए गश्त की जा रही थी लेकिन गश्ती दल के तालाब क्षेत्र पहुंचते ही कुछ अज्ञात लोग गहरे जंगल में भाग गए। उन्होंने बताया कि उनके पास .22 राइफल और 12 बोर एसबीबीएल बंदूक थी।

अधिकारी ने कहा कि इलाके की तलाशी के दौरान दो बैग, छुरी, 12 बोर एसबीबीएल बंदूक के तीन कारतूस और एक भुनी हुई विशालकाय काली गिलहरी बरामद की गई। उन्होंने बताया कि शिकारी अंधेरे का फायदा उठाकर भाग गए। अधिकारी ने बताया कि शिकारी आग्नेयास्त्रों से लैस थे।