नयी दिल्ली. आम आदमी पार्टी (आप) की राज्यसभा सदस्य स्वाति मालीवाल ने रविवार को कहा कि उनकी पार्टी के सहयोगियों ने कभी निर्भया के लिए न्याय मांगा था लेकिन आज वे एक ऐसे व्यक्ति का समर्थन कर रहे हैं जिसने उनके साथ साथ मारपीट की है.
‘आप’ ने मालीवाल पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को झूठे मामले में फंसाने की साजिश में शामिल होने का आरोप लगाया है. स्वाति मालीवाल ने कहा कि अगर आप नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया आज यहां होते तो ”शायद मेरे लिए चीजें इतनी बुरी नहीं होतीं.” सिसोदिया वर्तमान में आबकारी नीति मामले के संबंध में तिहाड़ जेल में बंद हैं.

मालीवाल ने आरोप लगाया कि जब वह 13 मई को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मिलने उनके आवास पर गई थीं तो उनके निजी सहायक (पीए) बिभव कुमार ने उनके साथ मारपीट की थी. ‘आप’ ने उनके आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए दावा किया है कि मालीवाल केजरीवाल को फर्जी मामले में फंसाने के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के इशारे पर काम कर रही हैं.

मालीवाल ने रविवार को कहा, ”एक समय था जब हम सब निर्भया को इंसाफ दिलाने के लिए सड़क पर उतरे थे, आज 12 साल बाद, हम एक ऐसे आरोपी को बचाने के लिए सड़क पर उतरे हैं जिसने सीसीटीवी फुटेज गायब किए और फोन से सब हटा दिया? काश उन्होंने इतना जोर मनीष सिसोदिया जी के लिए लगाया होता. वो यहां होते तो शायद मेरे साथ इतना बुरा नहीं होता!” मालीवाल दस साल से अधिक समय पहले आप की स्थापना के समय से ही उससे जुड़ी हुई हैं. पुलिस ने शनिवार को इस मामले में बिभव कुमार को गिरफ्तार कर लिया था.