बेतिया. केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को आरोप लगाया कि कांग्रेस और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता अपने ”घुसपैठिए” वोट बैंक के डर से राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल नहीं हुए थे. बिहार के बेतिया में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए शाह ने कहा, ”कांग्रेस और राजद शुरू से ही अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के खिलाफ थे. समारोह के लिए उन्हें निमंत्रण दिया गया, लेकिन वे अपने ‘घुसपैठिए’ वोट बैंक के डर से समारोह में नहीं आए.” शाह ने कांग्रेस और राजद नेताओं पर आरोप लगाया कि वे डरे हुए थे कि समारोह में शामिल होने से उनका ‘वोट बैंक’ नाराज हो जाएगा.

उन्होंने पाकिस्तान की परमाणु शक्ति के बारे में बयान देने पर कांग्रेस के नेतृत्व वाले विपक्ष की आलोचना की और कहा, ”कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर और उनके सहयोगी दल के नेता फारूक अब्दुल्ला कहते हैं कि पाकिस्तान के पास परमाणु बम है, इसीलिए पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) की बात मत करो. हम भाजपा के कार्यकर्ता परमाणु बम से नहीं डरते. मोदी की गारंटी है कि पीओके भारत का है, हमेशा रहेगा और हम इसको लेकर रहेंगे.” शाह ने लालू प्रसाद के नेतृत्व वाली राजद पर मंडल आयोग की सिफारिशों का विरोध करने वाली कांग्रेस के साथ हाथ मिलाने का भी आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि यह विरोध केवल लालू के बेटे तेजस्वी यादव को बिहार का मुख्यमंत्री बनाने के लिए किया गया था. उन्होंने पिछड़े वर्ग के लोगों का सम्मान करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सराहना की और बिहार में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) की जीत का भरोसा जताया.

शाह ने कहा, ”मोदी के नेतृत्व में राजग 400 से ज्यादा सीट जीतेगा. चार चरणों के मतदान के बाद मैं विश्वास के साथ कह सकता हूं कि राजग पहले ही 270 से अधिक लोकसभा सीट जीत चुका है. राजद चार सीट भी नहीं जीतेगी और कांग्रेस 40 भी नहीं.” उन्होंने कहा कि कांग्रेस और राजद ने कभी गरीबों के विकास के लिए काम नहीं किया और वे कभी भी बिहार की उन्नति के बारे में नहीं सोचते हैं.
पश्चिम चंपारण, वाल्मिकी नगर, पूर्वी चंपारण, शिवहर, वैशाली, गोपालगंज, सीवान और महाराजगंज में 25 मई को मतदान होगा.

कांग्रेस ने 70 साल तक अनुच्छेद-370 को बरकरार रखा: अमित शाह

कांग्रेस पर तीखा हमला करते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को आरोप लगाया कि विपक्षी दल ने संविधान के अनुच्छेद-370 को ”बरकरार रखा” जिसके कारण देश में आतंकवाद बढ.ा. उन्होंने यह भी कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) कभी भी देश का दूसरा विभाजन नहीं होने देगी.

उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले में एक चुनाव रैली को संबोधित करते हुए शाह ने कहा, ”कांग्रेस और समाजवादी पार्टी (सपा) ने 70 वर्षों तक अनुच्छेद-370 को बरकरार रखा, जिसके कारण पूरे देश में आतंकवाद बढ. गया.” उन्होंने कहा, ”आपने मोदीजी को दूसरी बार प्रधानमंत्री बनाया और उन्होंने पांच अगस्त 2019 को जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 को हटा दिया. जिस कश्मीर में तिरंगा फहराने के लिए सेना को साथ ले जाना पड़ता था, उसी लाल चौक (श्रीनगर) पर अब भगवान कृष्ण की शोभा यात्रा निकाली जाती है.” यह रैली जौनपुर के मछलीशहर लोकसभा क्षेत्र से भाजपा के उम्मीदवार बी.पी सरोज के लिए समर्थन जुटाने के खातिर आयोजित की गई थी.

उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस नेता कहते हैं कि देश को दो हिस्सों- दक्षिण भारत और उत्तर भारत, में विभाजित कर देना चाहिए. शाह ने कहा, ”कांग्रेस को एक बार देश का बंटवारा करके संतुष्टि नहीं मिली, वह देश को फिर से बांटना चाहती है. भाजपा कभी भी देश का फिर से बंटवारा नहीं होने देगी.” भाजपा के वरिष्ठ नेता ने कांग्रेस पर यह झूठ फैलाने का भी आरोप लगाया कि अगर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तीसरी बार सत्ता में आए तो आरक्षण खत्म कर देंगे.

उन्होंने कहा, ”मोदीजी के पास पिछले 10 साल से सत्ता है और उन्होंने इसका इस्तेमाल आरक्षण खत्म करने के लिए नहीं किया. जब तक भाजपा का एक भी सांसद है, कोई आरक्षण को छू नहीं सकता.” उन्होंने कहा, ”मैं खिलेश यादव (सपा प्रमुख) और राहुल गांधी (कांग्रेस नेता) से पूछना चाहता हूं कि आपकी सरकार 10 साल तक सत्ता में रही, इस दौरान उत्तर प्रदेश को क्या मिला? उन्होंने 10 साल में उत्तर प्रदेश को 4.9 लाख करोड़ रुपये दिए, जबकि नरेन्द्र मोदी ने 19.11 लाख करोड़ रुपये दिए.” मछलीशहर लोकसभा सीट पर मतदान 25 मई को होगा. इस सीट पर 12 उम्मीदवार मैदान में हैं और मुख्य मुकाबला भाजपा के बी.पी. सरोज और सपा की प्रिया सरोज के बीच है.

पूरा ‘इंडी’ गठबंधन अपने परिवार के लिए राजनीति करता है: अमित शाह

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने यहां एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि पूरा ‘इंडी’ गठबंधन अपने बेटे-बेटियों के लिए राजनीति करता है. उन्होंने कहा कि लालू जी, सोनिया जी, उद्धव जी, स्टालिन अपने-अपने बेटों को मुख्यमंत्री बनाना चाहते हैं. जिले के यमुनापार मेजा तहसील के सोरांव पाती गांव में इलाहाबाद सीट से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) प्रत्याशी नीरज त्रिपाठी के समर्थन में जनसभा को संबोधित करते हुए शाह ने कहा, “जो लोग अपने बेटे-बेटियों के लिए राजनीति करते हैं क्या वे आपका भला कर सकते हैं.” उन्होंने कहा कि ‘इंडी’ (इंडिया) गठबंधन कहता है कि उनकी सरकार आएगी तो वे अनुच्छेद 370 फिर से लागू करेंगे, तीन तलाक वापस लाएंगे, नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) हटाएंगे और परमाणु हथियार नष्ट करेंगे. उन्होंने आरोप लगाया कि ये ‘इंडी’ गठबंधन देश को आगे नहीं बढ़ा सकता.

गृह मंत्री ने कहा, “ये कांग्रेस और समाजवादी पार्टी (सपा) की सरकारों ने 70 साल तक राम मंदिर को अटकाए रखा. सपा सरकार ने कारसेवकों पर गोलियां चलवाईं और हमारे रामभक्तों को मारने का काम किया. आपने मोदी जी को दूसरी बार प्रधानमंत्री बनाया. मोदी जी ने केस जीता, भूमि पूजन किया और 24 जनवरी को प्राणप्रतिष्ठा समारोह के साथ ‘जय श्री राम’ कह दिया.” उन्होंने कहा कि जब ट्रस्ट (न्यास) ने इनको (विपक्षी दलों को) प्राणप्रतिष्ठा में शामिल होने का निमंत्रण भेजा तो वो लोग नहीं पहुंचे. उन्होंने कहा कि सोनिया जी भी नहीं पहुंचीं, राहुल बाबा, अखिलेश और डिंपल भाभी भी नहीं पहुंचीं, ये इसलिए नहीं पहुंचे क्योंकि अपने वोटबैंक से डरते हैं, उनके वोटबैंक आप नहीं, बल्कि वे घुसपैठिए हैं.