दुबई. ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी को ले जा रहे एक हेलीकॉप्टर ने ‘हार्ड लैंडिंग’ की है. ईरान के सरकारी मीडिया ने इस ‘हार्ड लैंडिंग’ का कोई ब्यौरा दिए बिना केवल इतनी जानकारी दी है. सरकारी टेलीविजन की खबर में रविवार को यह जानकारी दी गई है. किसी विमान या हेलीमॉप्टर की ‘हार्ड लैंडिंग’ से तात्पर्य उसकी अनियंत्रित और अव्यवस्थित लैंडिंग होता है. कुछ लोगों ने जनता से रईसी और हेलीकॉप्टर में सवार अन्य लोगों के लिए प्रार्थना करने का आग्रह किया है.

यह घटना तब हुई है जब रईसी और सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खामेनेई के नेतृत्व में ईरान ने पिछले महीने ही इजराइल पर एक जबरदस्त ड्रोन और मिसाइल हमला किया था. रईसी ईरान के पूर्वी अजरबैजान प्रांत में यात्रा कर रहे थे. सरकारी टीवी ने कहा कि यह घटना ईरान की राजधानी तेहरान से लगभग 600 किलोमीटर (375 मील) उत्तर-पश्चिम में अजरबैजान देश की सीमा पर स्थित जुल्फा शहर के निकट हुई. बाद में हालांकि टीवी ने बताया कि यह घटना उजी के निकट हुई है.

सरकारी समाचार एजेंसी ‘आईआरएनए’ की खबर के अनुसार, रईसी के साथ ईरान के विदेश मंत्री हुसैन अमीराब्दुल्लाहियन, ईरान के पूर्वी अजरबैजान प्रांत के गवर्नर और अन्य अधिकारी तथा अंगरक्षक भी यात्रा कर रहे थे. एक स्थानीय सरकारी अधिकारी ने घटना का वर्णन करने के लिए ”दुर्घटना” शब्द का इस्तेमाल किया, लेकिन उन्होंने एक ईरानी समाचार पत्र के समक्ष स्वीकार किया कि वह अभी तक घटनास्थल पर नहीं पहुंचे हैं. रईसी की स्थिति के बारे में न तो ‘आईआरएनए’ और न ही सरकारी टीवी ने कोई जानकारी दी.

गृह मंत्री अहमद वाहिदी ने सरकारी टीवी से कहा, ”राष्ट्रपति और उनके साथ कुछ लोग हेलीकॉप्टर से वापस जा रहे थे और खराब मौसम और कोहरे के कारण हेलीकॉप्टर को आपात स्थिति में उतारना पड़ा.” उन्होंने कहा, ”विभिन्न बचाव दल क्षेत्र में जा रहे हैं, लेकिन खराब मौसम और कोहरे के कारण उन्हें हेलीकॉप्टर तक पहुंचने में समय लग सकता है.”

उन्होंने कहा, ”यह क्षेत्र थोड़ा ऊबड़-खाबड़ है और वहां पहुंचना कठिन है. हम बचाव टीमों के लैंडिंग स्थल पर पहुंचने और उनसे अधिक जानकारी प्राप्त होने का इंतजार कर रहे हैं.” सरकारी टीवी ने बताया कि बचाव दल मौके पर पहुंचने का प्रयास कर रहे हैं लेकिन खराब मौसम के कारण बचाव अभियान बाधित हो रहा है. तेज हवाओं के साथ भारी बारिश और कोहरे की सूचना मिली है. ‘आईआरएनए’ ने इस क्षेत्र को एक ”जंगल”बताया है.

आपातकालीन सेवाओं के प्रवक्ता बाबाक येक्तापरास्त ने ‘आईआरएनए’ को बताया कि बचाव अभियान में लगे एक हेलीकॉप्टर ने उस क्षेत्र तक पहुंचने की कोशिश की जहां अधिकारियों का मानना ??है कि रईसी का हेलीकॉप्टर है, लेकिन जबरदस्त कोहरे के कारण हेलीकॉप्टर उतर नहीं सका. रईसी रविवार तड़के अजरबैजान के राष्ट्रपति इल्हाम अलीयेव के साथ एक बांध का उद्घाटन करने के लिए अजरबैजान में थे. यह तीसरा बांध है, जिसे दोनों देशों ने अरास नदी पर बनाया है. रईसी ईरान के पूर्वी अजरबैजान प्रांत में जा रहे थे. रईसी (63) एक कट्टरपंथी हैं, जिन्होंने पूर्व में देश की न्यायपालिका का नेतृत्व किया था.

उन्हें ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खामेनेई के करीबी के रूप में देखा जाता है और कुछ विश्लेषकों का कहना है कि वह 85 वर्षीय नेता (खामेनेई) की मृत्यु या पद से इस्तीफा देने के बाद उनकी जगह ले सकते हैं. रईसी ने ईरान का 2021 का राष्ट्रपति चुनाव जीता था. इस बीच अमेरिकी विदेश विभाग ने कहा कि वह ईरानी राष्ट्रपति और विदेश मंत्री को ले जा रहे एक हेलीकॉप्टर की ईरान में संभावित ‘हार्ड लैंडिंग’ की खबरों पर बारीकी से नजर रख रहा है. विभाग ने कहा कि इस समय उसके पास इस संबंध में अधिक जानकारी नहीं है.