रायपुर. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री विष्णु देव साय ने कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाद्रा पर राज्य में सार्वजनिक वितरण प्रणाली (पीडीएस) के तहत लोगों को दिए जाने वाले चावल की मात्रा के बारे में झूठ फैलाने का आरोप लगाया है. साय ने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में शनिवार रात कहा कि कांग्रेस की झूठ बोलने की आदत इतनी आसानी से नहीं जाएगी.

दरअसल कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने एक समाचार चैनल को दिए एक साक्षात्कार में कहा था कि छत्तीसगढ़ में जब कांग्रेस की सरकार थी तो 35 किलो राशन (प्रति परिवार) दिया जाता था और अब साय नीत भाजपा सरकार में केवल पांच किलो राशन दिया जा रहा है.

प्रियंका गांधी के इस बयान पर मुख्यमंत्री ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा,” कांग्रेस को 70 सालों से झूठ बोलने की बीमारी है यह इतनी आसानी से नहीं जाएगी. प्रियंका जी अगर आपको झूठ फैलाने से फुरसत मिल जाए तो पूर्व की कांग्रेस सरकार द्वारा छत्तीसगढ़ में किए गए पांच हजार करोड़ के चावल घोटाले पर भी दो शब्द कहिएगा.” उन्होंने कहा,” आपकी अज्ञानता का फायदा उठाकर हर बार छत्तीसगढ़ कांग्रेस के नेता आप लोगों को बेवकूफ बनाते हैं. पिछली बार कांग्रेसियों ने राहुल गांधी से कह दिया था कि कांग्रेस सरकार ने छत्तीसगढ़ के हर जिले में ‘फूड पार्क’ बना दिया है, उस झूठ का जवाब छत्तीसगढ़ की जनता ने आपकी पार्टी को रसातल में पहुंचा कर दे दिया.” मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बार भी उन्होंने राशन के मुद्दे पर उन्हें ”मूर्ख” बना दिया है.

साय ने कहा,” कोई भी बयान देने से पहले थोड़ा अध्ययन कर लें. अगर आप थोड़ा सा गृहकार्य करके बयान देंगी तो आपको बार-बार र्शिमंदा नहीं होना पड़ेगा.” मुख्यमंत्री ने रविवार को एक बयान में कहा कि पीडीएस के तहत केंद्र सरकार से मिलने वाले पांच किलो चावल (प्रति परिवार) के अतिरिक्त राज्य सरकार राशन कार्ड धारक एकल सदस्य परिवारों को 10 किलो चावल, दो सदस्यीय परिवारों को 20 किलो चावल, तीन से पांच सदस्यों वाले परिवारों को 35 किलो चावल और इससे अधिक सदस्यों वाले परिवारों को सात किलो चावल हर महीने मुफ्त में देती है.