वाराणसी: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपने संसदीय निर्वाचन क्षेत्र वाराणसी में 21 मई को ‘मातृशक्ति’ सम्मेलन में 25 हजार से अधिक महिलाओं से सीधा संवाद करेंगे। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के एक पदाधिकारी ने सोमवार को यह जानकारी दी।

भाजपा के जिला मीडिया प्रभारी अरंिवद मिश्रा ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी मंगलवार शाम को संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय में 25 हजार से अधिक ‘मातृ शक्तियों’ (महिलाओं) से सीधा संवाद करेंगे। मोदी वाराणसी संसदीय सीट से तीसरी बार भाजपा के उम्मीदवार हैं जिनके मुकाबले विपक्षी ‘इंडिया’ गठबंधन ने कांग्रेस की उत्तर प्रदेश इकाई के अध्यक्ष अजय राय को चुनाव मैदान में उतारा है।

मोदी 2014 और 2019 के लोकसभा चुनावों में वाराणसी से लगातार निर्वाचित हुए हैं और तीसरी बार चुनाव मैदान में हैं। प्रधानमंत्री ने 13 मई की शाम को वाराणसी में काशी ंिहदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) के मुख्य द्वार पर महामना पंडित मदन मोहन मालवीय की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के बाद काशी विश्­वनाथ धाम तक करीब छह किलोमीटर लंबा रोडशो किया था। चौदह मई को नामांकन पत्र दाखिल करने के बाद उन्­होंने प्रबुद्धजनों से संवाद भी किया था।

मिश्रा ने बताया कि मोदी मंगलवार को ‘मातृ शक्तियों’ से संवाद करेंगे। उन्होंने कहा कि इस ‘मातृशक्ति’ सम्मेलन में 25 हजार से अधिक महिलाएं शामिल होंगी जिनमें महिला गृहणियां, डॉक्टर, शिक्षिकाएं, व्यापारी, अधिवक्ता, खिलाड़ी सहित सभी वर्ग की महिलाएं शामिल होंगी।

उन्होंने कहा कि महिला कार्यकर्ताओं को हर बूथ से 10 महिलाओं को लाना है। उन्होंने कहा कि महिला मोर्चा की पदाधिकारी विभिन्न सामाजिक संगठनों, महिला महाविद्यालयों की छात्राओं, शिक्षिकाओं से संपर्क करके निमंत्रण दिया जा रहा है।

मिश्रा ने बताया कि ‘मातृशक्ति’ सम्मेलन के लिए महिला पदाधिकारी घर-घर जा कर संपर्क कर रही हैं। उन्होंने कहा कि इस ‘मातृशक्ति’ सम्मेलन में हजारों की संख्या में महिला कार्यकर्ताओं को जुटाने का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने कहा कि इसके अलावा इस बड़े कार्यक्रम में महिला संचालन से लेकर पूरे कार्यक्रम की व्यवस्था की जिम्मेदारी भी महिला पदाधिकारियों को ही सौंपी गई है। वाराणसी में लोकसभा चुनाव के अंतिम सातवें चरण में एक जून को मतदान होगा।