नयी दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण का मतदान शुरू होने के बाद सोमवार को लोगों से नफरत और तानाशाही के लिए नहीं, बल्कि भाईचारे और लोकतंत्र के लिए मतदान करने का आह्वान किया।

लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण में आज 49 सीट पर मतदान हो रहा है। खरगे ने ‘एक्स’ पर पोस्ट किया, ‘‘मेरे प्रिय देशवासियों, लोकतंत्र और संविधान को सुरक्षित रखना है तो मतदान ज़रूर करना है।’’ उन्होंने लोगों से आह्वान किया, ‘‘ईवीएम पर बटन दबाने से पहले याद करें कि हमें प्रेम और भाईचारे के लिए वोट डालना है, नफ़रत के लिए नहीं।

बेरोजग़ारी व महंगाई के खिलाफ वोट डालना है, चंद पूंजीपतियों को और अमीर बनाने के लिए नहीं। अपने मौलिक अधिकारों की सुरक्षा के लिए वोट डालना है, अधिकारों को छीनने वालों के लिए नहीं। न्याय के लिए वोट डालना है, अन्याय व अत्याचार के लिए नहीं।

लोकतंत्र के लिए वोट डालना है, तानाशाही के लिए नहीं।’’ खरगे ने कहा, ‘‘49 लोकसभा सीटों पर आज जिन आठ राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों के मतदाता अपने वोट के अधिकार उपयोग करेंगे वो युवा न्याय, नारी न्याय, किसान न्याय, श्रमिक न्याय और हिस्सेदारी न्याय के एजेंडे पर वोट करेंगे।’’

उन्होंने कहा, ‘‘आपके हाथ से जब ईवीएम का बटन दबेगा, तानाशाही की डोलती कुर्सी को एक और धक्का लगेगा और लोकतंत्र को शक्ति मिलेगी। पहली बार वोट करने वाले मेरे युवा साथियों का बहुत-बहुत स्वागत है। इसमें उनकी ऐतिहासिक जिम्मेदारी है।’’

कांग्रेस अध्यक्ष ने दावा किया, ‘‘चार चरणों के मतदान के रुझान यही कहते हैं कि हुकुमशाह की विदाई पक्की है। आज विदाई की ओर पांचवा कदम है। चार जून से एक नई शुरुआत, क्योंकि हाथ बदलेगा हालात।’’