Chhattisgarh News आरंग. आरंग थाना प्रभारी सत्येंद्र सिंह श्याम ने बताया कि आरोपी भोजराम साहू ने पीड़िता को घटना की जानकारी किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी दी थी. इसके चलते पीड़िता ने चार दिन बाद अपनी मौसी मां को इस घटना के बारे में बताया. परिवार के संज्ञान में आने के बाद शनिवार को उसकी मौसी मां ने थाने में शिकायत की. उन्होंने बताया कि आरोपी पीड़िता का घर अगल-बगल है. पीड़िता आरोपी के घर में घरेलू काम करती थी.

डरा धमकाकर उसके साथ जबरदस्ती शारीरिक संबंध बनाया

आरोपी ने घटना दिनांक को पीड़िता के घर जाकर बर्तन धोने की बात बोलकर पीड़िता के पिता को गुटखा लाने भेजा. इसके बाद पीड़िता को अकेले पाकर उसे डरा धमकाकर उसके साथ जबरदस्ती शारीरिक संबंध बनाया. विवेचना के दौरान आरोपी भोज राम साहू को उसके निवास स्थान से पुलिस अभिरक्षा में लेकर पूछताछ करने पर उसने अपराध स्वीकार किया. आरोपी को गिरफ्तार कर 15 दिन की न्याय हिरासत पर विशेष न्यायालय रायपुर रिमांड पर भेजा गया है.

नाबालिग को अपने पिता का साथ नहीं मिल रहा

Chhattisgarh News  मामले में दुर्भाग्य कि बात ये है कि बिन मां की नाबालिग को अपने पिता का साथ नहीं मिल रहा है. जानकारी के अनुसार पीड़िता का पिता शराब पीने का आदी है और आरोपी भोजराम साहू के एहसानों में दबा हुआ है. आरोपी भी गांव का रसूखदार और प्रतिष्ठित व्यक्ति है, जिसके कारण उसे पिता के साथ पूरे गांव वालों का भी सहयोग मिल रहा है. सभी घटना की जानकारी होने के बाद भी चुपचाप बैठे रहे.

पीड़िता का पिता भी अपनी बेटी को न्याय दिलाने सामने नहीं आ रहा

पीड़िता का पिता भी अपनी बेटी को न्याय दिलाने सामने नहीं आ रहा था. किसी तरह घटना की जानकारी पीड़िता की बड़ी मां और मौसी को हुई. इसकी शिकायत के बाद आरंग पुलिस कार्वारई करने में सफल हुई वरना आज एक बिन मां की नाबालिग को शायद न्याय नहीं मिल पाता और भोजराम साहू जैसे दरिंदे अपने समाज और गांव में खुले आसमान में अपना सर ऊंचा कर चलते.